कबड्डी

मंजीत चिल्लर का जीवन परिचय कबड्डी खिलाड़ी| Manjeet Chillar Biography in Hindi

मंजीत चिल्लर एक भारतीय कबड्डी खिलाड़ी है, जो प्रो कबड्डी में तमिल थलाइवाज के लिए रेडर और डिफेंडर की भूमिका निभाते है। इनको पावर हाउस और माइटी मंजीत जैसे उपनामों से जाना जाता है। मंजीत चिल्लर का जन्म 18 अगस्त 1986 को निजामपुर दिल्ली में हुआ।

मंजीत चिल्लर जीवनी | manjeet chhillar biography in Hindi

वन मैन आर्मी के नाम से जाने जाने वाले मंजीत चिल्लर 2021 में तमिल थलाइवाज से सदस्य के रूप ने जुड़े है। इनके राष्ट्रीय टीम में शानदार प्रदर्शन के चलते इन्होंने एशियन गेम्स ( Asian games) में गोल्ड मेडल जीता जिसके बाद भारत सरकार ने 2015 में इनको खेल पुरुस्कार अर्जुन अवार्ड दिया। इन्होंने प्रो कबड्डी के दूसरे ही सीजन में मोस्ट वैल्युएबल प्लेयर(most valuable player) का खिताब भी अपने नाम किया।

नाम (name)मंजीत चिल्लर (manjeet chhillar)
उपनाम (nickname)वन मैन आर्मी, एंग्री यंग मैन, पावर हाउस, माइटी मंजीत
जन्म तिथि (date of birth) 18 अगस्त 1986
लंबाई 5 फीट 7 इंच
जन्म स्थाननिजामपुर, दिल्ली
वजन 82 किलो
पोजिशनरेडर / डिफेंडर (ऑल राउंडर)
पुराना पेशारेलवे कर्मचारी
प्रो कबड्डी टीम तेलगु थलाइवाज
वर्तमान पेशाकबड्डी
शौक कुश्ती लड़ना
धर्म / जाति हिन्दू और जाट जाति के है मंजीत चिल्लर
पिता का नामजयप्रकाश चिल्लर
पत्नी/ गर्लफ्रेंडज्ञात नही
मंजीत चिल्लर का इंस्टाग्राम अकाउंट@manjeetchhillar

मंजीत चिल्लर का कुश्ती से कबड्डी तक का सफर

Manjeet शुरुआत ने एक रेसलर बनना चाहते थे लेकिन एक बार उनको कुश्ती खेलते समय नाक पर चोट लगी और उनको कुश्ती में कोई दिलचस्पी नहीं रही और वो गांव आ गए और उन्हें गांव में कबड्डी का शौक लगा। और 2010 में उन्होंने अंतराष्ट्रीय कबड्डी में देवी किया।

मंजीत चिल्लर के रिकॉर्ड उपलब्धियां

  • 2015 के प्रो कबड्डी लीग में मोस्ट वेल्युएबल खिलाड़ी बने।
  • 2010 के एशियाई खेलों में गोल्ड मेडल जीता।
  • 2014 केए एशियाई खेलों में गोल्ड मेडल जीतकर देश का नाम रोशन किया।
  • 2014 कबड्डी वर्ल्ड कप विनर टीम का हिस्सा रहे मंजीत चिल्लर।
  • 2018 में दुबई कबड्डी मास्टर लीग के विनर रहे।
  • 2015 में भारत सरकार से अर्जुन अवार्ड मिला।

मंजीत चिल्लर के बारे में रोचक तथ्य

  • मंजीत पहले कुश्ती खिलाड़ी थे लेकिन नाक में चोट के कारण उन्होंने कुश्ती छोड़कर कबड्डी खेलना सुरु किया।
  • नए नए फैशन करने के कारण उनके साथी खिलाड़ी उनको फैशन फ्रीक भी कहते है।
  • मंजीत चिल्लर सन्यास लेने के बाद कोच की भूमिका में नजर आ सकते है।
  • मंजीत ने अभी तक प्रो कबड्डी का खिताब अपने नाम नही किया है।
यह पोस्ट भी पढ़े
Ram Singh Rajpoot

Recent Posts

मोटो जी32 रिव्यू, प्राइस, स्पेसिफिकेशन्स & फीचर्स | Motorola Moto G32 Review, Price, Specifications & Features In Hindi India

मोटो जी32 रिव्यू | Moto G32 Review In Hindi कंपनी क्या दावा करती है Moto…

37 mins ago

रक्षाबन्धन 2022 – इतिहास, महत्व, निबंध, शुभकामनाएं और भाषण | Raksha Bandhan – 11 August 2022 History, Significance, Essay, Speech & Wishes Photo In Hindi

रक्षाबंधन (Raksha Bandhan) भारतीय उपमहाद्वीप में मनाया जाने वाला एक त्यौहार है। इस भाई बहन…

2 days ago

Nothing Phone 1 Review: ये लोग गलती से भी ना खरीदें नथिंग फोन 1 देखें रिव्यू

Nothing Phone 1 Review In Hindi: नथिंग का ये फोन जब से बाज़ार में आया…

6 days ago