जीवन परिचय biography in Hindi

कन्हैया कुमार | जीवन परिचय, रोचक तथ्य, विवाद (Kanhaiya Kumar biography in hindi)

कन्हैया कुमार एक भारतीय राजनेता है जो वर्तमान में कांग्रेस पार्टी से जुड़े हुए हैं। अपने college के समय में वे अखिल भारतीय छात्र परिषद से जुड़े जो भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी की स्टूडेंट विंग है। साल 2015 में Kanhaiya Kumar को जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय में छात्रसंघ अध्यक्ष चुना गया था तब से लेकर आजतक वो राजनीति में सक्रिय है। आज हम उनके संपूर्ण जीवन के बारे में जानेंगे।

कन्हैया कुमार (Kanhaiya Kumar)

LATEST NEWS IN HINDI

कन्हैया कुमार जीवनी | Kanhaiya Kumar biography in Hindi

कन्हैया कुमार का जन्म 2 जनवरी 1987 में बेगूसराय, बिहार में हुआ। वो एक गरीब बिहार के परिवार से आते है।

नाम (Name)कन्हैया कुमार (Kanhaiya Kumar)
पेशा (profession)छात्रनेता, कार्यकर्ता, राजनीतिज्ञ
जन्म तिथि और स्थान (Date of birth & place)2 जनवरी 1987, बेगूसराय, बिहार, भारत
वजन और लंबाई (Wight & height)5 feet 6 inches, 60 kilograms
धर्म और जाति (religion & caste)हिंदू / ब्रह्मण
माता पिता का नाम (parents name)जयशंकर सिंह (माता)
मीना देवी (माता)

Kanhaiya Kumar family | कन्हैया कुमार का परिवार

बिहार में जन्मे कन्हैया कुमार के पिताजी का नाम जयशंकर सिंह और माता का नाम मीना देवी है, जो आंगनबाड़ी में काम करती है। उनका एक भाई जिनका नाम प्रिंस है जो competition की तैयारी कर रहे है एक भाई मणिकांत असम की एक कंपनी में काम करते है। उनकी wife के बारे में कहां से बताए विवाह ही नहीं हुआ और girlfriend का अभी तक पता नहीं है और शायद हो भी ना।

कन्हैया कुमार पढ़ाई | Kanhaiya Kumar education qualification

इन्होंने अपनी प्रारंभिक स्कूली शिक्षा आर. के. सी. हाई स्कूल बरौनी, बरौनी, बेगूसराय, बिहार से की है और कॉलेज ऑफ कॉमर्स, पटना, बिहार से ग्रेजुएशन किया आज पोस्ट ग्रेजुएशन मगध पीएचडी युनिवर्सिटी, गया, बोध गया, बिहार से किया। इंटरनेशनल स्टडीज स्कूल जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय, दिल्ली, भारत से की और यही से इनका राजनीति में कदम पड़ा।

कन्हैया कुमार का राजनीतिक जीवन

कन्हैया कुमार अपनी घरेलू सीट बेगूसराय से अपने विपक्षी भाजपाई नेता गिरिराज सिंह से 22000 वोटो से हारे है। और वो अब टीवी पर डिबेट करते नजर आते है।

कन्हैया कुमार के विवाद और जेल जाना

13 फरवरी 2016 को, उन्हें छात्र रैली में राष्ट्र विरोधी नारे लगाने के लिए गिरफ्तार किया गया था उस रैली में इनपर आरोप लगे थे की उन्होंने कहा भारत तेरे टुकड़े होंगे और अफजल हम शर्मिंदा है तेरे कातिल जिंदा है, जैसे नारे लगाए लेकिन उनको बाद में कोर्ट से बरी कर दिया गया। कन्हैया कुमार के बारे ये जानकारी आपको कैसी लगी कमेंट जरूर करे और हमारा टेलीग्राम जरूर ज्वाइन करें।

यह भी पढ़े
Ram Singh Rajpoot

Recent Posts

RBSE 5th Result 2022: जारी होने में कुछ समय ऐसे करें चेक? | 5वीं बोर्ड रिजल्ट राजस्थान, अजमेर (RajeduBoard.Rajasthan.Gov.In)

Ajmer Board Rajasthan 5th Result 2022 Name Or Roll Number Wise RajeduBoard.Rajasthan.Gov.In: राजस्थान बोर्ड, अजमेर…

2 days ago

राजा राम मोहन राय जयंती 2022, निबंध, भाषण रोचक तथ्य

Raja Ram Mohan Roy Jayanti 2022 Essay In Hindi UPSC: राजा राम मोहन राय का…

1 week ago

REET 2022 के बाद होने वाली शिक्षक भर्ती परीक्षा जनवरी 2023 में होना प्रस्तावित

माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, राजस्थान, अजमेर द्वारा रीट पात्रता परीक्षा 2022 का आयोजन 23 और 24…

1 week ago

जुलाई 2022 में रीट का पेपर भी लीक होगा जानें किरोड़ी लाल मीणा ने ऐसा क्यों कहा

राजस्थान बीजेपी सरकार में मंत्री रहे किरोड़ी लाल मीणा ने कहा की रीट 2022 का…

1 week ago

क्या है पूजा स्थल अधिनियम 1991 | क्या ज्ञानवापी मस्जिद को तोड़कर मंदिर बनाया जा सकता है?

Place Of Worship Act 1991चर्चा में क्यों ज्ञानवापी मस्जिद के वजूखाने में शिवलिंग मिला है…

1 week ago