Cryptocurrency bill in india Hindi: कर दिया भारत सरकार ने क्रिप्टो करेंसी बैन | डिजिटल मुद्रा विनियमन विधेयक 2021

भारतीय सरकार ने 23 नवम्बर 2021 को cryptocurrency bill लाने का निर्णय लिया जिसके तहत सभी प्राइवेट क्रिप्टो करेंसी पर बैन लगा दिया जायेगा और एक सरकार द्वारा नियंत्रित क्रिप्टो लाई जाएगी। यह बिल भारतीय संसद में 29 नवम्बर 2021 से शुरू होने वाले शीतकालीन सत्र में लाया जाएगा। आइए जानते है डिजिटल मुद्रा विनियमन विधेयक 2021

इस बिल के बारे में।

Cryptocurrency bill in India सरकार कैसे करेगी क्रिप्टो करेंसी को बैन या नियंत्रित
  • क्रिप्टो उतार चढाव का मार्केट रहा है जिसके कारण मोदी सरकार को इसे बैन करने का फैसला लेना पड़ा है।
  • मोदी सरकार की इस खबर के बाद सारे क्रिप्टो करेंसी मार्केट में गिरावट देखने को मिली।
  • सरकार रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के साथ मिलकर लाएगी सरकारी क्रिप्टो करेंसी।
  • क्रिप्‍टोकरेंसी एंड रेग्‍युलेशन ऑफ ऑफ‍िशियल डि‍जिटल करेंसी बिल 2021 ये होगा बिल का पूरा नाम।
  • अधिकारी क्रिप्टो करेंसी को बढ़ावा देने के लिए सरकार निजी क्रिप्टो को बैन करने का यह निर्णय लिया है।

क्रिप्टो करेंसी को रोका नहीं जा सकता

  • क्रिप्टो करेंसी एक्सचेंज ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी पर काम करता है जिसका पूरा सिस्टम डिसेंट्रलाइज होता है यानी इस पर किसी भी संस्था या व्यक्ति का अधिकार नहीं होता, अब जब अधिकार ही नहीं है तो रोके कैसे।
  • 19 नवंबर 2021 को हुई संसदीय बैठक में यह निर्णय किया गया कि क्रिप्टोकरंसी को बैन नहीं किया जा सकता इसलिए इसपर सरकारी कानूनी नियंत्रण जरूरी है।

बिटकॉइन, डॉजिकोइन, इथेरियम जैसी क्रिप्टो करेंसी पर पड़ेगा असर

  • क्रिप्‍टोकरेंसी एंड रेग्‍युलेशन ऑफ ऑफ‍िशियल डि‍जिटल करेंसी बिल 2021 के आने के बाद बिटकॉइन, डॉजिकॉइन और एथेरियम जैसी प्राइवेट डिजिटल करेंसी पर इसका बहुत ज्यादा प्रभाव पड़ेगा।

क्रिप्टो करेंसी निवेशकों के लिए भी होंगे प्रावधान

  • डिजिटल मुद्रा विनियमन विधेयक 2021 के आने के बाद क्रिप्टो करेंसी में निवेश करने वाले सभी लोगों के लिए भी कुछ निर्देश होंगे जो उन सभी को मानने होंगे।
  • निर्देशों की जानकारी नई पोस्ट में हम आपको जरूर देंगे डिटेल टॉपिक के लिए पढ़ते रहे जेएनयू।
यह भी पढ़े

Leave a Comment