जीवन परिचय biography in Hindi

सावित्रीबाई फुले जीवन परिचय, भाषण, निबंध, कहानी पहली महिला शिक्षक की | Savitribai Phule Story, Speech, Essay & Biography In Hindi

Savitribai Phule Speech, Essay, History, jayanti, Poetry, Story, Biography in Hindi: सावित्रीबाई फुले जीवनी, कहानी, निबंध, जयंती, कविता, भाषण, इतिहास फोटो हिंदी में।

सावित्रीबाई ज्योतिराव फुले (Savitribai Jyotirao Phule) भारत की प्रथम महिला शिक्षिका थी। जिन्होंने मराठी में लेखन और समाज सुधार के लिए अनेक कार्य किए। इन्हे मराठी काव्य का अग्रदूत कहा जाता है, बालिका शिक्षा में सावित्रीबाई फुले का योगदान भुलाया नहीं जा सकता।

आज हम सावित्रीबाई फुले के संपूर्ण जीवन के बारे में जानेंगे।

सावित्री बाई फुले जीवनी हिंदी में

सावित्रीबाई फुले जीवनी | savitribai phule biography in hindi

पूरा नाम (Full Name)सावित्रीबाई फुले (Savitribai Phule)
जन्म तिथि और स्थान (date and place of birth)3 जनवरी 1831 नायगांव, सतारा, मुंबई, महाराष्ट्र
मृत्यु की तिथि और स्थान (date and place of death)10 मार्च 1897 पुणे, महाराष्ट्र
पति का नाम (husband name)ज्योतिबा फुले (Jyotiba Phule)
माता पिता का नाम (parent’s name)लक्ष्मी (माता),
खन्दोजी नैवेसे (पिता)
गूगल डूडल (Google Doodle)3 जनवरी 2017 को उनके 189 वे जन्मदिवस के मौके पर डूडल बनाया
विवाह (Marriage )साल 1840 में ज्योतिराव गोविंदराव फुले से
उनके जीवन का उद्देश्य (Purpose of life of Savitri Bai Phule)विधवा विवाह करवाना,
छुआछूत मिटाना,
महिलाओं की मुक्ति,
हिंदू धर्म में कमजोर वर्ग की महिलाओं को शिक्षित करना

Latest News In Hindi

सावित्रीबाई फुले का प्रारंभिक जीवन

सावित्रीबाई फुले का जन्म 3 जनवरी 1831 को सतारा मुंबई महाराष्ट्र में हुआ। इनका विवाह 1840 में ज्योतिबा फुले से हुआ, ज्योतिबा को ही बाद में इन्होंने अपना गुरु माना।

सावित्रीबाई फुले के सामाजिक सुधार

सावित्रीबाई फुले पहली बालिका विद्यालय की प्रिंसिपल बनी और इन्होंने किसान विद्यालय की शुरुआत भी की।

  • कमजोर तबके को शिक्षित करना।
  • महिलाओं की शिक्षा पर जोर।
  • विधवा विवाह करवाना।
  • छुआछूत मिटाना।

सावित्रीबाई फुले की गंदगी की कहानी

सावित्रीबाई फुले जब स्कूल जाती थी तब लोग रास्ते में इनपर कीचड़ फेंक देते थे लेकिन समाज के इस घटिया सोच से उन्होंने है नही मानी और वे हमेशा अपने बस्ते में 2 साड़ियां रखती थी और कीचड़ में हुई साड़ी को वो विद्यालय में जाकर बदल लेती थी।

1 दिन सावित्रीबाई फुले को उनके पिताजी ने अंग्रेजी किताब के पन्ने पलटते हुए देख लिया फिर उन्होंने कहा कि शिक्षा पर केवल उच्च जातियों का हक है दलितों और महिलाओं का शिक्षा लेना पाप है और उनकी किताबें फेंक दी। लेकिन सावित्रीबाई फुले उन किताबों को वापस लेकर आई और प्रण लिया कि आज से वे पढ़ना जरूर सीखेंगी।

महिला विद्यालय की स्थापना

साल 3 जनवरी 1848 और जगह पुणे, महाराष्ट्र उन्होंने अपने पति ज्योतिबा फुले के साथ मिलकर महिला विद्यालय की स्थापना की। एक साल में 5 महिला विद्यालय खोलने के कारण सरकार ने उन्हें सम्मानित भी किया था।

फातिमा बेगम शेख से मुलाकात

ज्योतिबा फूले अपने एक मित्र उस्मान शेख के साथ रहने लगे उस्मान की बहन का नाम फातिमा बेगम शेख जिससे बाद में सावित्रीबाई फुले की मुलाकात हुई फातिमा बेगम शेख पहले से ही अपने मन में पढ़ने की इच्छा को दबाए हुई थी। बाद में दोनों ने साथ में ग्रेजुएशन की और फातिमा बेगम शेख पहली मुस्लिम महिला शिक्षिका बनी।

फातिमा बेगम शेख और सावित्रीबाई फुले दोनों ने मिलकर साल 1849 में शेख के घर में ही स्कूल खोला।

सावित्रीबाई फुले के बारे में रोचक तथ्य

  • सावित्रीबाई फुले को मराठी की आदिकवियत्री माना जाता है।
  • इन्होंने नाइयों के खिलाफ आंदोलन किया जिससे वह विधवाओं का मुंडन नहीं करें।
  • प्रेगनेंट रेप से पीड़ित लड़कियों के लिए बालहत्या प्रतिबंधक गृह नामक देखभाल केंद्र खोला।
  • वैसे तो सावित्रीबाई फुले और ज्योतिबा फुले की कोई संतान नहीं थी लेकिन उन्होंने एक ब्राह्मण पुत्र यशवंत राय को गोद लिया लेकिन इसका कोई लिखित प्रमाण नहीं है।
  • सगुनाबाई के साथ उन्होंने कई स्कूल में पढ़ाई करवाई।
सावित्रीबाई फुले जयंती 2022 कब है? और इसकी जानकारी

सावित्री बाई फुले जयंती 3 जनवरी 2022 को मनाई जाएगी। इसकी ज्यादा जानकारी आप Jodhpurnationaluniversity.com वेबसाइट से पा सकते हैं।

सावित्रीबाई फुले के द्वारा किए गए समाज सुधार के कार्य कौन कौनसे है?

सावित्रीबाई फुले के द्वारा समाज सुधार और महिलाओं के लिए अनेक कार्य किए गए जिनकी संपूर्ण जानकारी आपको Jodhpurnationaluniversity.com पर मिल जायेगी।

यह भी पढ़े
Ram Singh Rajpoot

Recent Posts

RBSE 5th Result 2022: जारी होने में कुछ समय ऐसे करें चेक? | 5वीं बोर्ड रिजल्ट राजस्थान, अजमेर (RajeduBoard.Rajasthan.Gov.In)

Ajmer Board Rajasthan 5th Result 2022 Name Or Roll Number Wise RajeduBoard.Rajasthan.Gov.In: राजस्थान बोर्ड, अजमेर…

1 day ago

राजा राम मोहन राय जयंती 2022, निबंध, भाषण रोचक तथ्य

Raja Ram Mohan Roy Jayanti 2022 Essay In Hindi UPSC: राजा राम मोहन राय का…

1 week ago

REET 2022 के बाद होने वाली शिक्षक भर्ती परीक्षा जनवरी 2023 में होना प्रस्तावित

माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, राजस्थान, अजमेर द्वारा रीट पात्रता परीक्षा 2022 का आयोजन 23 और 24…

1 week ago

जुलाई 2022 में रीट का पेपर भी लीक होगा जानें किरोड़ी लाल मीणा ने ऐसा क्यों कहा

राजस्थान बीजेपी सरकार में मंत्री रहे किरोड़ी लाल मीणा ने कहा की रीट 2022 का…

1 week ago

क्या है पूजा स्थल अधिनियम 1991 | क्या ज्ञानवापी मस्जिद को तोड़कर मंदिर बनाया जा सकता है?

Place Of Worship Act 1991चर्चा में क्यों ज्ञानवापी मस्जिद के वजूखाने में शिवलिंग मिला है…

1 week ago