जीवन परिचय biography in Hindi

डॉ. एस सोमनाथ | जीवनी, रोचक तथ्य | ISRO Chief scientist Dr S Somanath Biography In Hindi

ISRO ke vartman adhyaksh kaun hai. S. Somnath Biography, Facts, Net Worth, Age, Wife, Children’s Name, In Hindi: इस सबकी जानकारी आपको इस पोस्ट ने मिलेगी।

एस सोमनाथ एक भारतीय एयरोस्पेस इंजीनियर, रॉकेट टेक्नोलॉजिस्ट और भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन(ISRO) के अध्यक्ष भी है इन्हे 15 जनवरी 2022 को इसरो का अध्यक्ष बनाया गया है। इससे पहले एस सोमनाथ (S. Somnath) विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केंद्र और तरल प्रणोदन प्रणाली केंद्र तिरुवनंतपुरम के निदेशक भी रह चुके हैं।

आज हम इस पोस्ट में उनके बारे में उनका जीवन परिचय जानेंगे।

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन के अध्यक्ष भारतीय एयरोस्पेस इंजीनियर और रॉकेट टेक्नोलॉजिस्ट

एस सोमनाथ जीवन परिचय | S. Somanath Biography in Hindi

नाम (Name)एस सोमनाथ (S. Somnath)
पद भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन, अध्यक्ष (15 जनवरी 2022)
जन्म तिथि और स्थान (Date of birth & Place)जुलाई 1963 अरूर, अलाप्पुझा, केरल, भारत
पत्नी का नाम (Wife Name)वलसाला (GST विभाग में काम)
बच्चे (Children’s Name)2 बच्चे (इंजीनियरिंग में मास्टर्स करे हुए)
संपत्ति (Net Worth)₹10 करोड़ अनुमानित
उम्र (Age)49 वर्ष

Latest News In Hindi

एस सोमनाथ (S Somanath) का प्रारंभिक जीवन और शिक्षा

भारतीय वैज्ञानिक एस सोमनाथ का जन्म जुलाई 1963 अरूर, अलाप्पुझा, केरल में हुआ। इनका प्रारंभिक जीवन और शिक्षा केरल में ही पूरी हुई है।

एस सोमनाथ ने सेंट ऑगस्टीन हाई स्कूल, अरूर से अपनी प्रारंभिक शिक्षा पूर्ण की। बाद में इन्होंने महाराजा कॉलेज, एर्नाकुलम में अपना प्री डिग्री प्रोग्राम पूरा किया। और टीकेएम कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, कोल्लम, केरल विश्वविद्यालय से मैकेनिकल इंजीनियरिंग में स्नातक की डिग्री प्राप्त की। साथ ही भारतीय विज्ञान संस्थान, बैंगलोर से एयरोस्पेस इंजीनियरिंग में मास्टर डिग्री हासिल की।

अपनी स्नातक की पढ़ाई के बाद एस सोमनाथ जी विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केंद्र और भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) में जुड़ गए। शुरुआत में इन्हे ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण वाहन परियोजना से जोड़ा गया।

2010 में एस सोमनाथ वीएसएससी के एसोसिएट डायरेक्टर और जीएसएलवी एमके III लॉन्च वेहिकल के प्रोजेक्ट डायरेक्टर बने।

एस सोमनाथ नवंबर 2014 तक प्रोपल्शन एंड स्पेस ऑर्डिनेंस एंटिटी के उप निदेशक भी रहे।

भारत में जीएसएलवी एमके-3 बनाना

जीएसएलवी जिसका पूरा नाम जियोसिंक्रोनल सैटेलाइट लांच व्हीकल है जो भारत में नही बन सकता और पश्चिमी देशों ने इसकी तकनीक दूसरे देशों को उपलब्ध कराना बंद कर दिया था लेकिन एस सोमनाथ के प्रयासों के चलते भारत में इसके नवीनतम संस्करण का निर्माण संभव हो सका।

एस सोमनाथ (S Somanath) रोचक तथ्य

  • इनसे पहले इसरो के अध्यक्ष के. सिवान थे जिनका कार्यकाल 14 जनवरी 2022 तक था।
  • इनका मानना है की भारत में भी निजी कंपनियों द्वारा अंतरिक्ष में व्यापार और प्रौद्योगिकी को बढ़ावा मिलना चाहिए।
  • सोमनाथ केरल के तिरुवंतपुरम की एक फिल्म सोसाइटी के सदस्य भी रह चुके हैं क्योंकि इनको फिल्मे बहुत पसंद है।
  • इनके 2 बच्चे है जिन्होंने इंजीनियरिंग में मास्टर डिग्री हासिल की है।
एस सोमनाथ(S Somanath) कौन है?

एस सोमनाथ भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन इसरो(ISRO) के वर्तमान अध्यक्ष है। जिनके पिताजी का नाम Vedamparambil Sreedhara Panicker और माता जी का नाम Thankamma था।

एस सोमनाथ की पत्नी और बच्चे कौन हैं?

इनकी पत्नी का नाम Valsala kumari है और उनके 2 बेटे है जिन्होंने इंजीनियरिंग में मास्टर्स किया है और इनकी पत्नी जीएसटी विभाग में काम करती है।

यह भी पढ़े
Ram Singh Rajpoot

Recent Posts

RBSE 5th Result 2022: जारी होने में कुछ समय ऐसे करें चेक? | 5वीं बोर्ड रिजल्ट राजस्थान, अजमेर (RajeduBoard.Rajasthan.Gov.In)

Ajmer Board Rajasthan 5th Result 2022 Name Or Roll Number Wise RajeduBoard.Rajasthan.Gov.In: राजस्थान बोर्ड, अजमेर…

1 day ago

राजा राम मोहन राय जयंती 2022, निबंध, भाषण रोचक तथ्य

Raja Ram Mohan Roy Jayanti 2022 Essay In Hindi UPSC: राजा राम मोहन राय का…

1 week ago

REET 2022 के बाद होने वाली शिक्षक भर्ती परीक्षा जनवरी 2023 में होना प्रस्तावित

माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, राजस्थान, अजमेर द्वारा रीट पात्रता परीक्षा 2022 का आयोजन 23 और 24…

1 week ago

जुलाई 2022 में रीट का पेपर भी लीक होगा जानें किरोड़ी लाल मीणा ने ऐसा क्यों कहा

राजस्थान बीजेपी सरकार में मंत्री रहे किरोड़ी लाल मीणा ने कहा की रीट 2022 का…

1 week ago

क्या है पूजा स्थल अधिनियम 1991 | क्या ज्ञानवापी मस्जिद को तोड़कर मंदिर बनाया जा सकता है?

Place Of Worship Act 1991चर्चा में क्यों ज्ञानवापी मस्जिद के वजूखाने में शिवलिंग मिला है…

1 week ago